हरिहर झा

विविध

Kritya-2    |  अनहदकृति     |   साहित्य-कुंज । boloji । अनुभूति । कृत्या। kritya | हिन्द-युग्म |

–सृजनगाथा   । आखर कलश । काव्यालय । नवगीत  | साहित्य-सुधा

————————————–

(सूची: हिन्दी में, वार्ता : किशोर नागरानी, Unique Magazine: कविता, भारती लिपि, खून शहर का निसार: नवगीत २०१३, Amaravati Poetic Prism 2013 : जियो और जीने दो, कबीर,    filmi songs, विश्व-हिन्दी-साहित्य २०१८ कविता: चल पड़ी है वेदना नूपुरध्वनि में बुकलॉन्च, करोना, परिवर्तन)

हिन्दी में :  http://www.anubhuti-hindi.org/sankalan/hindi/harihar_jha.htm

—   file:///C:/Users/Harihar%20Jha/Documents/hrj/etc_dir/HP%20old%20backup/My%20documents/APerma_dir/Permanent_Part_2015June/2SEMI_Kavita_dir/loose_files/Hindi_Me.htm

( वार्ता श्री किशोर नांगरानी से )

http://podcast.hindyugm.com/2008/05/kavya-paath-of-harihar-jha.html

*********

वेब-दुनिया:आंसुओं बह जाओ तो अच्छा रहे

न इतना शरमाओ

मायके में खुश रहना | हरिहर झा     कविराज बनते फिरते हो,

प्रकृति मौसी – हिन्दी साहित्य काव्य संकलन

मंडी बनाया विश्व को

साल मुबारक

बुलन्द आवाज : काव्य रचना , आखर कलश

भारती लिपि में : कलम गहो…   तथा लिखना बाकी है

(  87 में से दो रचनाओं का चयन   ७९ व ८० )
 
 

Harihar Jha singing Husn Wale tera jawab nahi at Feb 2017 Sangeet …

Hariharjha] sings Aise To Na Dekho by Mohammed Rafi, what an incredible voice on StarMaker!

https://m.starmakerstudios.com/share?recording_id=5910974499521117&app=sm

( Tum Jis Pe Nazar Dalo….)

Hariharjha] sings Aise To Na Dekho by Mohammed Rafi, what an incredible voice on StarMaker!

https://m.starmakerstudios.com/share?recording_id=5910974499521117&app=sm

भीग गया मन – संगीतकार और गायक – संदीप नागर

Harihar Jha Hindi Gazal Gam bhulaa kar at Hindi Diwas 09 Melbourne …

Hindi books in Bharati script

’विश्व हिन्दी साहित्य’ २०१८ में पृष्ठ ८४ http://www.vishwahindi.com/hi/downloads/vhs/vhs2018.pdf

कविता-कुञ्ज  : अंतर्ज्योति

—-https://kavitalok.blogspot.com.au/2016/09/blog-post_48.html

 मेरी एक कविता ‘ चल पड़ी है वेदना ‘ को राग ‘ नूपुर ध्वनि’ में ढाल कर पुस्तक ‘ पन्नालाल घोष ‘ में म्यूजिकल नोटेशन सहित प्रकाशित किया गया है जिसके लेखक हैं डॉ विश्वास कुलकर्णी । यह कविता २ नवंबर को बुक लांच के समय श्री आल्हाद आप्टे द्वारा गाई जाएगी ।

चल पड़ी है वेदना : राग नूपुरध्वनि पृष्ठ १४२
चल पडी है वेदना पृष्ठ १४३

चल पडी है वेदना पृष्ठ १४४

*





————–*****

—————————-****

%d bloggers like this: